धरती माता से है गहरा नाता आओ हम सब सम्मान करे प्रदूषण ख़त्म हो पृथ्वी हित में  स्वच्छ ऊर्जा का आह्वान करे।

सोना उगले अपनी माटी चहुं   ओर खुशहाली   हो वृक्षारोपण हमको  करना     धरा पर सुंदर हरियाली हो। 

अमावस्या की रात में  हर देहरी दीप जगमगाता  रोशनाई से धरती का  सुन्दर स्वरुप  निखर जाता भारतीय संस्कृति का  दीपावली अद्भुत त्यौहार हर आँगन चमकता  दीप मिटाता अंधकार  जगमगाती सारी धरती  खिलखिलाता संपूर्ण संसार निराशा के तिमिर छँटते आशा का होता संचार  धन धान्य की होती वृष्टि  मिलता सबको रोज़गार Continue Reading