बस तुम ही तो हो मेरे जीवन के आधार पल पल गति साँसों की प्राणों के सार मेरे सुख दुख के साथी जन्मों का बंधन ऊर्जा नव संचार प्रियतम का आलिंगन बस तुम ही से बना मेरा प्यारा परिवार अनन्त आकाश धरती मिलन  संसार तुमसे मिला प्रेम  अद्भुत दैवीय मिलनContinue Reading

मेरी माँ मेरा वरदान है अनवरत बिना थके बिना रुके निरंतर ख्याल रखती मेरा टिक-टिक चलती घड़ी के समान है। मेरी माँ परिवार का अभिमान है अन्नपूर्णा का स्वरूप लिए अपने हाथों में जादू लिए बनाती स्वादिष्ट पकवान है। कभी मित्र तो कभी गुरु बनकर हर राह को आसान बनाती Continue Reading