एक सत्य – अत्यधिक आर्थिक तंगी चोरी, लूट खसोट, ठगी,छलावा,जालसाजी़ व डकैती को जन्म देती है। इससे उबरने के लिए एक दूसरे पर विश्वास करके काम देना चाहिए। एक छोटा सा वाक्या आप सभी से सांझा करती हूँ, कई वर्षों से एक इस्त्री करने वाला युवा धोबी  है, जिसने अपनीContinue Reading

अभी समय है,अभी नहीं कुछ बिगड़ा है, देखो चुनाव तुम्हारे पास खड़ा है, देना है मत उसी में चित्त लगा दो, भाजपा पर विश्वास करो, संदेह भगा दो। पूर्ण तुम्हारा मनोभिष्ट क्या कभी न होगा, होगा तो बस अभी, फिर कभी न होगा, देख रहे हो कांग्रेस के किन सपनोंContinue Reading