बरसों से बैठा ये देख रहा मैं राहगीरों को बस आते-जाते अटल साक्षी हूँ इस पथ का बीते दिन यहाँ बीती हर रातें मौसम की कभी ढलती छाया धूल मिट्टी में सदा लिपटा रहा कल भी था वही मैं आज भी अपनी जगह पर सिमटा रहा मंज़िल का हूँ संकेतContinue Reading

हिमालय की गोद में स्थित देव भूमि हिमाचल प्रदेश के स्पिती वैली की रोमांचक यात्रा का ग्यारहवां अंतिम दिन – कुफरी से जयपुर पंछी कितना ही आसमान में उड़ ले लेकिन शाम को वो अपने घोंसले में लौट आता है,माना गति ही जीवन है, पर ठहराव भी ज़िंदगी का अभिन्नContinue Reading

हिमालय की गोद में स्थित देव भूमि हिमाचल प्रदेश के स्पिती वैली की रोमांचक यात्रा का नवाँ दिन – कल्पा रोमांच तो इस यात्रा में भरपूर था,जाते-जाते मन में आई और नाको की झील के किनारे गए, 20 मिनट की बोटिंग की, ज़िंदगी के मजे उठाए क्योंकि सोच यही थीContinue Reading

हिमालय की गोद में स्थित देव भूमि हिमाचल प्रदेश के स्पिती वैली की रोमांचक यात्रा का आठवाँ दिन – नाको काजा के तीन दिन पलक झपकते ऐसे निकले कि पता ही नहीं चला,मन में नया जोश लेकर एवं ज़िंदगी का एक नया अनुभव लेकर यहाँ से चल दिये हम नाकोContinue Reading

हिमालय की गोद में स्थित देव भूमि हिमाचल प्रदेश के स्पिती वैली की रोमांचक यात्रा का सातवां दिन – काजा डे 3 नमस्कार दोस्तों, आज की सुबह शांत और निर्मल आनंद से भरी थी, क्योंकि काजा का ये तीसरा दिन था, सोचा थोड़ा जानकारी लेते हैं, होटल के मालिक केContinue Reading

हिमालय की गोद में स्थित देव भूमि हिमाचल प्रदेश के स्पिती वैली की रोमांचक यात्रा का छठा दिन – काजा डे 2 अपने स्पिती के सफ़र की अनुभूति को शब्दों के मोती में पिरो कर आप सब के समक्ष रखने का प्रयास किया है,जो मैंने कल रात मन में तयContinue Reading

हिमालय की गोद में स्थित देव भूमि हिमाचल प्रदेश के स्पिती वैली की रोमांचक यात्रा का पांचवां दिन – काजा ताबो की सुबह बड़ी हसीन थी, जल्द ही उठ कर तैयार हो गए और नाश्ता करके निकल पड़े अपनी नई मंज़िल की ओर, जिसका नाम था “काजा”। हमारे मन मेंContinue Reading

हिमालय की गोद में हिमाचल प्रदेश के स्पिती वैली की रोमांचक यात्रा – चौथा दिन। नदी और बारिश के शोर को सुनते हुए हम सोने चले गए थे,सुप्त मन में एक चिंता थी कि आसमान खुला होगा कि नहीं क्योंकि मौसम विभाग के अनुसार आगे बर्फ गिरने की संभावना है,Continue Reading

सुप्रभात दोस्तों, हिमालय पर्वत पर स्थित देव भूमि हिमाचल प्रदेश के स्पिती वैली की रोमांचक यात्रा का तीसरा दिन – चितकुल चितकुल की अंधेरी रात में अचानक दो बजे नींद खुल गई तो अपने होटल के कमरे की खिड़की से अचंभित और रोमांचित करने वाला प्राकृतिक दृश्य था,ओस की बूंदेContinue Reading

हिमालय पर्वत पर स्थित देव भूमि हिमाचल प्रदेश के स्पिती वैली की रोमांचक यात्रा का दूसरा दिन –  कुफरी से चितकुल यात्रा का दूसरा दिन,उत्साह, उमंग हृदय में, अनुपम दृश्य प्रकृति का, समय पर निकलना जरूरी था, क्योंकि कुफरी से चितकुल भी रात होने से पहले पहुँचना जरूरी था। हिमाचलContinue Reading