कतई ऐसा न करें विवाह का खुबसूरत समारोह, दो दिलों का एकाकीकरण, दो परिवारों का मिलन, पिता के जीवन भर की जमा पूंजी से सजाई गई खुशियों की महफिल किसके लिए? अपने रिश्तेदार, मित्र और अपने पहचान वालों के लिए, जिसमें सभी लोग शामिल होकर आनंद से झूमे, नाचे,गाये, खायेContinue Reading

भारत माता की जय!!! आओ झुक कर सलाम करें उनको जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है खुशनसीब होता है वो खून जो देश के काम आता है। मैं मधु भूतड़ा, देश भक्ति की भावना से ओत-प्रोत 71 वें गणतंत्र दिवस की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं देती हूँ। यहContinue Reading